Pages

Search This Website

Saturday, September 3, 2016

एक पहचान हज़ारो दोस्त बना देती हैं

एक पहचान हज़ारो दोस्त बना देती हैं

एक मुस्कान हज़ारो गम भुला देती हैं

ज़िंदगी के सफ़र मे संभाल कर चलना

एकग़लती हज़ारो सपने जला कर राख देतीहै

No comments:

Post a Comment

ANUKRAMANIKA