Pages

Search This Website

Thursday, May 26, 2016

हर रात के बाद एक नया सा सवेरा देना ..

ओ मेरे खुबसूरत चाँद ,

मेरे दोस्त को एक प्यारा तोहफा देना ,

हजारों सितारों की महफ़िल के संग उनको रौशनी देना ,

तुम छुपा लेना अँधेरे को इस तरह और ,

हर रात के बाद एक नया सा सवेरा देना ..

No comments:

Post a Comment