Pages

Search This Website

Friday, April 29, 2016

दोस्ती पर, मेरा इश्क भी कुर्बान है!!!!

इश्क ओर दोस्ती मेरे दो जहान है,

इश्क मेरी रुह,

तो दोस्ती मेरा ईमान है,

इश्क पर तो फिदा करदु अपनी पुरी जिंदगी,

पर दोस्ती पर, मेरा इश्क भी कुर्बान है!!!!

No comments:

Post a Comment