Pages

Search This Website

Sunday, January 10, 2016

तुम कब ग़लत थे ये कोई नहीं भुलता..."


" तुम कब सही थे ये कोई याद नहीं रखता
तुम कब ग़लत थे ये कोई नहीं भुलता..."

No comments:

Post a Comment