Pages

Search This Website

Sunday, January 10, 2016

कभी कभी याद करने में क्या बुराई हैं..

तोड़ दो न वो कसम जो खाई हैं..
कभी कभी याद करने में क्या बुराई हैं....

No comments:

Post a Comment

ANUKRAMANIKA