Pages

Search This Website

Thursday, November 26, 2015

तेरी ही याद मेरी जान ले रही है....

"तू तो मेरी जान है.....फ़िर क्यूँ ?

तेरी ही याद मेरी जान ले रही है....

No comments:

Post a Comment