Pages

Search This Website

Thursday, November 26, 2015

तू बरसती रहे,,, मैं भीगता रहूँ...!

बारिश हो तेरे जैसी,,,
मिट्टी हो मेरे जैसी,,,

तू बरसती रहे,,,
मैं भीगता रहूँ...!

No comments:

Post a Comment