Pages

Search This Website

Monday, November 23, 2015

हम उन आँखों को झील समझते रहें,

एक बुंद तक पानी नहीं निकला उन आँखों से मेरे बिछड़ने के बाद;

तमाम उम्र हम उन आँखों को झील समझते रहें,

No comments:

Post a Comment