Pages

Search This Website

Thursday, November 26, 2015

तेरी स्माइल से मीठा कुछ भी नहीं.

हज़ारों मिठाइयाँ चखी हैं मैंने...

लेकिन तेरी स्माइल से मीठा कुछ भी नहीं.

No comments:

Post a Comment

ANUKRAMANIKA